नुक्कड़ नाटको की बदलती फिज़ा ने दिखाया नारकोटिक्स कण्ट्रोल ब्यूरो के मुंबई, मीरा रोड और भायेंदर का नया चेहरा

 


जी हाँ, अगर नारकोटिक्स कण्ट्रोल ब्यूरो की हालिया कार्यवाहियों पर नज़र डाले और उसके बाद राष्ट्रीय मीडिया की कवरेज पढ़े तो ऐसा लगता है जैसे भारत की कमर्शियल कैपिटल अब ड्रग्स कैपिटल बन गई है| तथाकथित यू-ट्यूब पत्रकारों ने तो मुंबई को “ नशीले नगर” की तरह प्रोजेक्ट किया और इस तरह की छवि बना दी जैसे यहाँ हो रहे बाकी व्यापर बस नशे के कारोबार की laundering करने का जरिया भर है|

बिहार के छोटे छोटे शहरो से आये, या फिर यूरोप के  मास कम्युनिकेशन कॉलेज से फ्लश आउट हुए frustrated यू-ट्यूब पत्रकारों ने डेस्क रिसर्च और कपोल कल्पनाओ पर आधारित मुंबई की जो तस्वीर आपके दिमाग मैं खींच दी है, उसे बदलने के लिए हाल ही में, मीरा रोड और भायेंदर के युवाओ ने पुलिस और सामजिक संगठनों के साथ मिलकर एक अनूठी पहल की, एक ऐसे कार्यक्रम का आयोजन किया गया जो मुंबई की असली धडकन से आपको मिलवाता है|

मीरा रोड के युवाओ ने दिखाया की कल के नुक्कड़ नाटक आज फ़्लैश मोब का रूप अख्तियार कर चुके हैं, कंक्रीट की सड़क पर इनके acrobatic करतब आपको एहसास दिलाएंगे की मुंबई आज भी वही शहर है जो आपसे आपका बेस्ट निकलवाने का माद्दा रखता है|

आइये देखते हैं “भारत की बात” में प्रस्तुत ये स्पेशल रिपोर्ट जो मुंबई के मुँह पर नशे का धुआं छोड़ रहे, यू-ट्यूब पत्रकारों के मूंह पर एक करारा तमाचा है|

 

https://www.youtube.com/watch?fbclid=IwAR2k247_OYnke9OPpCshPEffMmNjXmp8pm1eJqfoXqRIO1nCaN5gwprrjeY&v=nzi9wj2W7Mw&feature=youtu.be




Post a Comment

Previous Post Next Post